14 सितंबर हिंदी दिवस : जानिये अपनी मातृ भाषा हिंदी के बारें में

0
24
हिंदी दिवस

14 सितंबर को भारत में हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता हैं,हिंदी को भारत की राजभाषा की मान्यता प्राप्त हैं .भारत में कई तरह की भाषाओँ का प्रचलन हैं ,राष्ट्र के स्तर पर हिंदी भाषा को सर्वमान्य किया गया हैं .

भारतीय संविधान के 17वें भाग में अनुच्छेद 350 और 351 पर विचार किया गया है जो हिंदी की भाषा के विकास और उसकी संवर्धना पर आधारित है.

विश्व की सभी भाषाओँ की तरह हिंदी भाषा का जन्म भी देववाणी संस्कृत भाषा से हुवा हैं .

14 सितम्बर 1949 को संविधान सभा ने एक मत से यह निर्णय लिया कि हिन्दी ही भारत की राजभाषा होगी.

14 सितम्बर 1949 को काफी विचार-विमर्श के बाद यह निर्णय लिया गया कि संघ की राजभाषा हिन्दी और लिपि देवनागरी होगी. संघ के राजकीय प्रयोजनों के लिए प्रयोग होने वाले अंकों का रूप अंतर्राष्ट्रीय रूप होगा.

हिन्दी को हर क्षेत्र में प्रसारित करने के लिये राष्ट्रभाषा प्रचार समिति, वर्धा के अनुरोध पर वर्ष 1953 से पूरे भारत में 14 सितम्बर को प्रतिवर्ष हिन्दी-दिवस के रूप में मनाया जाता है.

हिंदी दिवस पर पुरष्कार के रूप में राजभाषा गौरव पुरस्कार लोगों को दिया जाता है जबकि राजभाषा कीर्ति पुरष्कार  किसी विभाग, समिति आदि को दिया जाता है.

हिन्दी दिवस पर हिन्दी भाषा में विद्यालय आदि में कवितायें, निबंध लेखन आदि प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाता है, इसका मुख्य उद्देश्य लोगों को उनके मातृ भाषा के लिए जागरूक करना है.

अखबारों, आकाशवाणी, धारावाहिकों और सोशल मीडिया के माध्यम से हिंदी भाषा का दिन प्रतिदिन विकास हो रहा हैं .

हिंदी लेखन की सुविधा फेसबुक और ब्लॉग दे रहे हैं,सोशल मीडिया पर हिंदी उपभोक्ताओं की संख्या करोडो में हो चुकी हैं .

गूगल ने हिंदी टाइपिंग के लिए हिंदी इनपुट टूल उपकरण का विकास कर वेब पर हिंदी भाषा के लेखन और पाठन को बहुत ही आसान बना दिया हैं .

सोशल मीडिया पर इस दिन #Hindi Diwas या #HindiDiwas नाम से पोस्ट कर लोग एक दुसरे को हिंदी दिवस के बधाई संदेश भेजते हैं.

राजभाषा हिंदी विश्व की तीसरी और भारत की सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषा है.

वर्ष 1918 में गांधी जी ने हिन्दी साहित्य सम्मेलन में हिन्दी भाषा को राष्ट्रभाषा बनाने को कहा था। इसे गांधी जी ने जनमानस की भाषा भी कहा था.

आइये जानते हैं कुछ ऐसे शब्दों के बारें में जो हिंदी भाषा के नहीं हैं मगर हम उसे प्रतिदिन हिंदी के साथ उपयोग करते हैं.

विदेशी भाषा के शब्द जो हिंदी में शामिल हो गए

पुर्तगाली शब्द– अचार, चाबी, संतरा, आलपिन, बाल्टी।

तुर्की शब्द- कैंची, चम्मच, तोप, बारूद, खंजर, चेचक, बेगम, उर्दू।

फ्रेंच शब्द- काजू, कारतूस, मेयर, कूपन, मीनू, सूप।

डंच भाषा- तुरूप, बम, चिड़िया।

यूनानी शब्द- एकेडमी, एटलस, बाइबिल, टेलिफोन।

अरबी शब्द-
 औरत, अदालत, कानून, कुर्सी, लिफाफा, इज्जत, इलाज, औलाद, हिम्मत, कब्जा, दुनिया, बहस, कमाल, तहसील, आजाद, तराजू, जिला, मुस्लमान, हलुआ, वकील।

फारसी शब्द- आदमी, तनख्वाह, चश्मा, बीमार, जमीन, दवा, खून, गुब्बारा।

अंग्रेजी शब्द- टाई, स्टेशन, माइक, डायट, ट्रांसपैरेंट, फ्रेंड, रिलेशनशिप, ब्यूटीफुल, क्यूट आदि शब्द हिंदी में बखूबी प्रयोग किए जा रहे हैं।

 

Leave a Reply